Default Theme
AIIMS NEW
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली
All India Institute Of Medical Sciences, New Delhi
कॉल सेंटर:  011-26589142

जैव भौतिकी

विभाग के मुख्‍य फोकस में प्रोटीन अणुओं की त्रिआयामी संरचना के निर्धारण शामिल हैं जो इनकी जैविक भूमिका में विस्‍तृत अंतरदृष्टि अर्जित करने के लिए संरचना � कार्य संबंध स्‍थापित करती हैं और युक्ति संगत संरचना आधारित मार्ग का उपयोग करते हुए नए औषधि अणुओं के लिए लक्ष्‍यों के रूप में संगत प्रोटीन संरचनाओं का इस्‍तेमाल करती हैं। हमारी प्रयोगशालाओं में प्रोटीन रसायन और जैविक आण्विक तकनीकों का इस्‍तेमाल करते हुए अति अभिव्‍यक्ति से उत्‍पन्‍न प्राकृतिक स्रोतों से प्रोटीन अलग किए जाते हैं।

संरचनाओं का निर्धारण एक्‍स-रे क्रिस्‍टलोग्राफी विधियों का उपयोग करते हुए परमाणु विवरणों में किया जाता है। संरचना के सफल निर्धारण के बाद नए प्रोटीन फोल्‍ड को प्रकट करने के लिए अत्‍यंत विस्‍तार से संरचना का विश्‍लेषण किया जाता है और कार्यात्‍मक प्रक्रियाओं की स्‍थापना की जाती हैं। प्रोटीन गतिशीलता तथा फोल्डिंग की अंतरदृष्टि भी समझी जाती है।

विभाग प्रोटियोमिक्‍स की विधियों का इस्‍तेमाल करते हुए नए प्रोटीनों की पहचान और लाक्षणीकरण में भी शामिल है। विशुद्ध लाइगेंड अंत: क्रिया बाइंडिंग अध्‍ययनों का उपयोग करते हुए पूरी की जाती हैं। नए संरचनात्‍मक रूप से विशिष्‍ट पेप्‍टाइड की डिजाइन तैयार की गई है और मैनुअल तथा स्‍वचालित विधियों का उपयोग करते हुए इनका संश्‍लेषण किया गया है।

Top of Page