Default Theme
AIIMS NEW
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली
All India Institute Of Medical Sciences, New Delhi
कॉल सेंटर:  011-26589142

स्क्विंट, तंत्रिका नेत्र विज्ञान, बाल चिकित्सा नेत्र विज्ञान एवं ओकुलोप्लास्टी

स्क्विंट, तंत्रिका नेत्र विज्ञान, बाल चिकित्सा नेत्र विज्ञान एवं ओकुलोप्लास्टी

 

आचार्य एवं अध्यक्ष

आचार्य प्रदीप शर्मा

 

संकाय सदस्य

आचार्य मनदीप बजाज

आचार्य नीलम पुष्कर

सहायक आचार्य स्वाती फुलझेले

सहायक आचार्य डॉ. रचना मील

इस यूनिट द्वारा देखरेख की जाने वाली उप-विशिष्टताएं हैं:

1. स्ट्रैबिस्मस (भेंगापन)

2. तंत्रिका नेत्र विज्ञान

3. ओकुलोप्लास्टी और ऑरबिट

4. रेटिनोब्लास्टोमा और अन्य ट्यूमर

5. बाल चिकित्सा नेत्र विज्ञान

इस अनुभाग द्वारा कॉम्प्लेक्स स्ट्रैबिस्मस के मामलों में स्ट्रैबिस्मस की शल्य चिकित्सा उपचार की दिशा में नई तकनीकों का विकास किया गया है जिसमें इंफीरियर ओब्लिक, सुपीरियर ओब्लिक सर्जरी, डुएन और अन्य सिंड्रोम तथा पैरालिटिक स्क्विंट शामिल हैं। ऐसे रोगियों की दृष्टि में सुधार करने के लिए वैकल्पिक चिकित्सा की भूमिका का मूल्याँकन करने सहित नास्टाग्मस में विशिष्ट शोध वीडियोनास्टाग्मोग्राफी के उपयोग द्वारा किया गया है। टेलर एक्यूटी, कार्डिफ़ एक्यूटी और डिस्टेन्स स्टीरियोप्सिस परीक्षण जैसे विशेष परीक्षणों से बच्चों में दृष्टि का मूल्याँकन निर्दिष्ट किया गया है। स्ट्रैबिस्मस के उपचार के क्षेत्र में इस पूरे उपमहाद्वीप में इसकी अग्रणी भूमिका है।

विभाग ऑप्टोमेट्री और ऑर्थोप्टिक विद्यार्थियों के प्रशिक्षण और शिक्षण में सक्रिय रूप से शामिल है। इसका मिशन सामान्य दृष्टि विकास और दृष्टि की सुरक्षा, उपचार, अनुसंधान और शिक्षा के कार्यक्रमों को बढ़ावा देने के माध्यम से शिशुओं और बच्चों के साथ-साथ स्ट्रैबिस्मस वाले वयस्कों हेतु जीवन की गुणवत्ता को बेहतर बनाना है।

यह यूनिट दुनिया के उन कुछ केंद्रों में से एक है, जो सक्रिय रूप से मंददृष्टिता रोग की पहचान तथा सुधार हेतु कार्यात्मक एमआरआई की भूमिका का मूल्याँकन करने में सक्रिय रूप से शामिल है और जो संक्रमित क्रैनियल डिसिनेशन विकारों के लिए इमेजिंग के साथ-साथ ऑक्लूशन थेरेपी के प्रभावों को समझने की कोशिश करता है।

तंत्रिका-नेत्र विज्ञान सेवा ने तंत्रिका-विज्ञान (न्यूरोलॉजी) विभाग और बाल चिकित्सा विभाग के सहयोग से काम किया है, जिससे ऑप्टिक न्यूराइटिस के प्रबंधन हेतु एक नया उपचार, जैसे नए विकास, ट्रौमैटिक ऑप्टिक न्यूरोपैथी के प्रबंधन के लिए उपयुक्त हस्तक्षेप रणनीति स्थापित करना, प्रारंभिक पहचान एथंबुटोल विषाक्तता और ऑप्टिक न्यूराइटिस में विलंबन पैदा करने वाले महत्वपूर्ण कार्यात्मक एमआरआई और ओसीटी अध्ययनों के साथ बाल रोगियों की विशेष दृश्य आवश्यकताओं को प्रबंधित करने से ऑप्टिक न्यूराइटिस और मल्टीपल स्क्लेरोसिस की हमारी समझ में सुधार हुआ है और मूल्याँकन के नए आयाम खुले हैं तथा रोगों पर अनुवर्ती कार्रवाई की गई है।

यूनिट की ओक्युलोप्लास्टी सेवा ने विभिन्न टांका सामग्री और पीटीओसिस सुधार, त्वचा तथा वसा और श्लेष्मा झिल्ली के नुकसान को रोकने के लिए तकनीकों हेतु अग्रणी काम किया है, कांट्रैक्टेड सॉकेट के पुनर्निर्माण, एडनेक्स की जन्मजात विसंगतियों पर आनुवंशिक अध्ययन, विभिन्न प्रकार के ट्यूब, आदि कुछ महत्वपूर्ण नामों में कांट्रैक्टेड सॉकेट के पुनर्निर्माण में लैक्रिमल ड्रेनेज और सॉकेट सर्जरी तथा एम्नीओटिक झिल्ली ग्राफ्टिंग में एंटी-मेटाबोलाइट्स की भूमिका महत्वपूर्ण है। आईसीएमआर के सहयोग से राष्ट्रीय रेटिनोब्लास्टोमा रजिस्ट्री शुरू की गई है। पिछले कुछ वर्षों में रेटिनोब्लास्टोमा थेरेपी का मूल्याँकन किया गया है – जिसमें फोकल उपचार, विकिरण, कीमोथेरेपी और हाल ही में नई दवाओं और प्लाज्मा और विट्रीओस  में उनके स्तर की प्रभावकारिता शामिल है।

कैपिलरी हेमांजिओमा में प्रोपेनॉलोल, त्वचा ग्राफ्टिंग में फाइब्रिन गोंद का उपयोग, फंगल ऑर्बिटल संक्रमण में वोरिकोनोजोल, रेटिनोब्लास्टोमा सहित विभिन्न आँखों की पलकों और ओकुलर ट्यूमर में नैदानिक और आणविक अध्ययन; जैसी कई परियोजनाओं पर कार्य किया जा रहा है।

केंद्र में ओक्युलोप्लास्टी सेवाएं विभिन्न प्रकार के विकारों के लिए नेत्र संबंधी प्लास्टिक और पुनर्निर्माण सर्जरी प्रदान करती हैं जिनमें प्टोसिस, जन्मजात संरचनात्मक विसंगतियाँ, लैक्रिमल ड्रेनेज सिस्टम से संबंधित समस्याएं और शल्य चिकित्सा और ओकयुलर मैलिग्नेंसी के बाद ओरबिट का पुनर्निर्माण शामिल है। कार्य के अन्य क्षेत्रों में चेहरे की जलन, दुर्घटनाओं, बंदूक की गोली के घावों, झुकाव, और दांत से काटने वाले घावों से संबंधित मामलों में पलकों की मरम्मत और ऊतक प्रतिस्थापन शामिल है। एक ओरबिटल प्रत्यारोपण और कॉस्मेटिक पुनर्वास के प्लेसमेंट के साथ उत्थान या मरम्मत और स्वास्थ्य देखभाल भी नियमित रूप से केंद्र में किया जाता है। यह कृत्रिम आँख एक सामान्य उपस्थिति व अनुभव प्रदान करेगी और असुविधा से छुटकारा दिलाएगी। सॉकेट के विस्तार सहित सॉकेट का पुनर्निर्माण भी किया जाता है।

यह यूनिट ओक्युलर कैंसर अनुसंधान में भी अग्रणी रही है, जिसमें इस बीमारी के लिए नए और बेहतर उपचार हेतु नैदानिक परीक्षण शामिल हैं। इसका लक्ष्य मरीजों को सामान्य चिकित्सकों, विकिरण चिकित्सकों, बाल व शिशु चिकित्सकों और बच्चों और वयस्कों की सेवा करने के लिए चिकित्सक के साथ मिलकर एक टीम भावना सहित व्यापक देखभाल प्रदान करने के लिए एक सहानुभूतिपूर्ण और पेशेवर तरीके से सेवा प्रदान करना है।

 

Zo2 Framework Settings

Select one of sample color schemes

Google Font

Menu Font
Body Font
Heading Font

Body

Background Color
Text Color
Link Color
Background Image

Header Wrapper

Background Color
Modules Title
Text Color
Link Color
Background Image

Menu Wrapper

Background Color
Modules Title
Text Color
Link Color
Background Image

Main Wrapper

Background Color
Modules Title
Text Color
Link Color
Background Image

Inset Wrapper

Background Color
Modules Title
Text Color
Link Color
Background Image

Bottom Wrapper

Background Color
Modules Title
Text Color
Link Color
Background Image
Background Color
Modules Title
Text Color
Link Color
Background Image
 
Top of Page